सोमवार, 15 फ़रवरी 2021

बड़े-बड़े हरफनमौला फीके पड़े इस गेंदबाज के आगे

भारतीय क्रिकेट टीम में रविचंद्रन आश्विन को एक उम्दा स्पिन गेंदबाज के रूप में जाना जाता है लेकिन जिस तरह की परिस्थिति में उन्होंने आज इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी की.उसे देखते हुए हम कह सकते हैं.यदि उन्हें अवसर मिले तो वो एक उम्दा हरफनमौला खिलाड़ी साबित हो सकते हैं.जिस पिच पर इंग्लैंड की पहली पारी और भारतीय टीम की दूसरी पारी लड़खड़ा गयी.उस मैदान पर आश्विन ने कमाल की बल्लेबाजी करते हुए शतकीय पारी खेली.आखिरी विकेट के रूप में मोहम्मद सिराज ने उनका बखूबी साथ दिया. 


 आश्विन ने रचा इतिहास :-वास्तव में जिस तरह की बल्लेबाजों के विपरीत पिच पर आश्विन ने अत्यंत जबरदस्त बल्लेबाजी का परिचय दिया.उसने उन्हें रिकॉर्ड की फेहरिश्त में ला खड़ा किया.आश्विन ने एक पारी में 5 विकेट और शतक लगाने का कारनामा तीसरी बार किया.आज की अपनी उम्दा बल्लेबाजी से आश्विन ने कई दिग्गज हरफनमौला खिलाडियों को पीछे छोड़ दिया है.आश्विन ने वेस्टइंडीज के गैरी सोबर्स,पकिस्तान के मुश्ताक़ मोहम्मद,साऊथ अफ्रीका के जैक कैलिस और बांग्लादेश के शाकिब अल हसन को पछाड़ दिया है.आश्विन ऐसे पहले भारतीय खिलाड़ी हैं.जिन्होंने अपने घरेलु मैदान पर मैच की पारी में 5 विकेट भी लिया और शतक भी लगाया.आश्विन टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा बार 5 विकेट लेने के साथ-साथ शतक लगाने वाले दुसरे खिलाड़ी बन गए हैं.अब आश्विन की नजर इंग्लैंड के आलराउंडर इयान बॉथम के रिकॉर्ड पर होगी.जिन्होंने 5 बार पारी में शतक और 5 विकेट लेने का कारनामा किया है. 


हमवतन खिलाडियों को पीछे छोड़ा :-आश्विन दो पूर्व भारतीय खिलाडियों के रिकॉर्ड को ध्वस्त किया.आश्विन से पहले एक पारी में 5 लेने और शतक बनाने के रिकॉर्ड दो भारतीय खिलाडियों ने बनाया था.जी हाँ वीनू मांकड़ और पॉली उमरीगर ने अपने टेस्ट करियर के दौरान दो बार ये उपलब्धि हासिल की थी. 


पॉलीक्रिक के अनुसार 'कल देखना बड़ा दिलचस्प होगा की कल आश्विन और भारतीय स्पिन आक्रमण मिलकर कब तक इंग्लैंड के खिलाडियों को ऑलआउट करते हैं.'भारत दुसरे टेस्ट में बिल्कुल ड्राइव सीट पर है.अब देखना दिलचस्प होगा की भारतीय टीम रनो के अंतर को कितना बड़ा करता है. 

लेबल:

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

सदस्यता लें टिप्पणियाँ भेजें [Atom]

<< मुख्यपृष्ठ